WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now

Kisan loae waiver scheme : राज्य सरकार प्रतिदिन 906 किसानों का लोन माफ करेगी

जाने इस पोस्ट में क्या क्या है

झारखंड सरकार कर रही है किसानों के कर्जमाफ, जानें किन किसानों को मिलेगा लाभ

सरकार की ओर से किसानों को कर्जमाफी का लाभ दिया जाता है। इसके तहत कई राज्यों में किसानों की कर्जमाफी की गई है। इसी क्रम में झारखंड सरकार भी राज्य के किसानों के पुराने कर्ज माफ कर रही है। कर्जमाफी का उद्देश्य किसानों को कर्ज के बोझ से मुक्त कराना है ताकि वे अगली फसल के लिए बैंक से दुबारा कर्ज ले सकें। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार झारखंड राज्य में प्रतिदिन 906 किसानों की कर्जमाफी की जा रही है। बता दें कि कर्जमाफी योजना झारखंड के तहत किसानों के 31 मार्च 2020 तक के पुराने ऋण माफ किए जा रहे हैं। इसमें किसान के 50 हजार रुपए तक ऋण माफ किए जा रहे हैं। बता दें कि राज्य के 9,07,778 किसानों को कर्ज माफी योजना का लाभ देने का लक्ष्य रखा गया है। अब तक 66 फीसदी डाटा बैंकों द्वारा अपलोड किया जा चुका है। 

अब तक कितने किसानों के कर्ज हुए माफ

झारखंड कृषि ऋण माफी योजना के तहत वित्त वर्ष 2021-22 में 1529.01 करोड़ रुपए का ऋण माफ किया गया है। वित्त वर्ष 2021-22 के दौरान कुल 2,60,238 किसानों की ऋण माफी की प्रक्रिया शुरू की गई थी। इसमें से 2,28,190 किसानों की कर्जमाफी की प्रक्रिया पूरी हो चुकी थी। इस अवधि में 1034.05 करोड़ रुपए की ऋण माफी हुई थी, हांलाकि इसी वर्ष में 3,83,102 किसानों के लिए ऋण माफी की प्रक्रिया शुरू की गई थी। 

प्रतिदिन 3.34 करोड़ रुपए के ऋण किए गए माफ

कृषि निदेशक निशा उरांव द्वारा दिए गए आंकड़ों के मुताबिक 61 प्रतिशत डाटा जो बैंकों द्वारा अपलोड किया गया है उसकी केवाईसी हो चुकी है। पिछले वित्त वर्ष में 423 दिनों तक यह योजना चली थी। इस दौरान प्रतिदिन 906 किसानों का ऋण माफ किया गया। प्रतिदिन के हिसाब से 3.34 करोड़ रुपए का ऋण माफ किया गया।

किसान कॉल सेंटर के माध्यम से हो रहा है समस्या का समाधान

कर्ज माफी योजना से संबंधित समस्याओं का निपटारा किसान कॉल सेंटर के माध्यम से किया जा रहा है। कृषि निदेशक द्वारा किए गए ट्वीट के मुताबिक पलामू जिले के किसान पंचम बिहारी लाल गुप्ता ने कृषि ऋण माफी के लिए आवेदन दिया था पर उनका ऋण माफ नहीं हुआ। इसके बाद उन्होंने किसान कॉल सेंटर में अपनी शिकायत दर्ज कराई थी। शिकायत दर्ज करने के बाद तुरंत कार्रवाई करते हुए उनकी ऋण माफी हो गई। 

किन किसानों को दिया जा रहा है कर्जमाफी का लाभ 

किसान कर्ज माफी योजना झारखंड के तहत राज्य के सभी छोटे और सीमांत किसानों के 50 हजार रुपए तक के कर्ज माफ किए जा रहे हैं। इसी के साथ ही गन्ने की फसल, फलों के साथ अन्य पारंपरिक खेती करने वाले किसानों को भी किसान कर्ज माफी योजना का लाभ दिया जाएगा। 

किसान कर्ज माफी योजना का लाभ लेने के लिए कैसे करें आवेदन (Debt Waiver Scheme)

ऋण माफी योजना के लिए राज्य के किसान वाणिज्यिक बैंक, अनुसूचित सहकारी बैंक एवं ग्रामीण बैंक में किसान आवेदन कर सकते हैं। इस योजना के तहत कॉमन सर्विस सेंटर तथा बैंक के द्वारा आवेदन प्राप्त करने की प्रक्रिया है जिससे आवेदकों को उनके अपने निकटतम बैंक शाखा से संपर्क कर वहां से फॉर्म लेना होगा। इसके बाद फॉर्म में पूछी गई सभी सूचनाओं को सही से भरना होगा। इसके बाद मांगे गए दस्तावेजों को संलग्न करना होगा और इसे बैंक में जमा कराना होगा। सत्यापन के बाद पात्र किसानों के ऋण माफ कर दिए जाएंगे। 

क्या है किसान कर्ज माफी योजना झारखंड (Kisan Karj Mafi Yojana)

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सारेन ने 15 अगस्त 2021 को झारखंड किसान कर्ज माफी योजना की घोषणा की गई थी। इस योजना के तहत राज्य के सभी सीमांत और छोटे किसानों का कर्ज माफ किया जाएगा। इसके लिए बजट में दो हजार करोड़ रुपए का प्रावधान रखा गया है। बता दें कि झारखंड में 5 लाख से भी अधिक ऐसे किसान हैं जिन्होंने कर्ज ले रखा है। इनमें से अधिकांश किसानों ने कर्ज किसान क्रेडिट कार्ड योजना के जरिये लिया हुआ है। झारखंड में कर्ज माफी योजना को अगले साल तक के बढ़ा दिया गया है। यदि किसान इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो उन्हें इसके लिए आवेदन करना होगा और लाभार्थी सूची में अपना नाम देखना होगा। यदि लाभार्थी सूची में आपका नाम होता है तो आपका 50 हजार रुपए का कर्ज माफ हो जाएगा।

Rail Kaushal Vikas Yojana 2022 – रेलवे में मिल रहा है निशुल्क प्रशिक्षण रोजगार
IGI Aviation Customer Service Agent CSA भर्ती 2022 ऑनलाइन फॉर्म
Rajasthan RPSC School Lecturer पीजीटी भर्ती 2022 ऑनलाइन फॉर्म
पशु क्रेडिट कार्ड योजना: मात्र 4% ब्याज दर पर पशुपालक ऐसे ले 3 लाख तक का लोन
Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *