Solar Rooftop Panel करें आवेदन: 15 दिनों में लगेगा Solar Panel

Solar Rooftop Panel: सौर ऊर्जा को बढ़ावा दिए जाने की योजना के तहत ऊर्जा मंत्रालय ने रूप टॉप सोलर पावर प्लांट (Rooftop solar power) लगाए जाने की योजना में बदलाव किया है। अब उपभोक्ता अपनी पसंद के सोलर प्लांट अपनी छत पर लगवा सकेंगे। Solar Rooftop की देखरेख के लिए एक राष्ट्रीय पोर्टल बनाया जायेगा।

Roof Top Solar Power Plant से जुड़ी जरुरी बातें

सोलर प्लांट लगाने की मंजूरी15 दिन के भीतर सोलर प्लांट लगाने की मंजूरी मिल जाएगी.
सोलर प्लांट एग्रीमेंटएग्रीमेंट 5 सालों के लिए होता है
सोलर प्लांट लगवाने के लिएराष्ट्रीय पोर्टल पर नेट मीटर के लिए आवेदन करना होगा
बैंक अकाउंट में सब्सिडीसोलर प्लांट लाभार्थी के बैंक खाते में सब्सिडी राशि डाली जाती है
आधिकारिक वेबसाइटपूरी जानकारी आधिकारिक वेबसाइट www.solarrooftop.gov.in पर उपलब्ध होती है

इस तरह से लगेगा छत पर Roof Top Solar Power Plant

छत पर सोलर प्लांट (Solar Rooftop Panel) लगवाने के लिए राष्ट्रीय पोर्टल पर नेट मीटर के लिए आवेदन करना होगा। बिजली कंपनी आवेदक को निर्धारित निर्देश के तहत नेट मीटर (net meter) खरीदने को कहेगा। इसकी जांच बिजली कंपनी के स्तर पर होगी और जांच के निर्णय को को पोर्टल पर डाल दिया जाएगा। नेट मीटर लगने के बाद बिजली कंपनी के अधिकारी राष्ट्रीय पोर्टल पर उसे शुरू करने तथा निरीक्षण रिपोर्ट पेश करेंगे।

Roof Top Solar Plant

न्यू एंड रिन्यूएबल एनर्जी मंत्रालय ने कहा कि डिस्कॉम के स्तर पर समान प्रारूप में एक पोर्टल होगा और दोनों पोर्टलों को जोड़ा जाएगा। जो घरेलू लाभार्थी रूफटॉप सोलर प्लांट (Solar Rooftop Panel) लगवाना चाहता है वह राष्ट्रीय पोर्टल पर आवेदन कर सकता है। इस आवेदन को करने के लिए लाभार्थी को आवश्यक जानकारी जमा करनी होगी जिसमें बैंक खाते का विवरण भी शामिल होगा जहां सब्सिडी राशि भी दी जाएगी।

15 दिन में मिल जाती है आवेदन की मंजूरी

रूफटॉप सोलर प्लांट (Rooftop Solar Plant) में आवेदन करने के लिए बिजली घर को ऑनलाइन ट्रांसफर कर दिया जाता है जिसके 15 दिन के भीतर सोलर प्लांट लगाने की मंजूरी मिल जाएगी। सोलर प्लांट लगाने के बाद MNRE मंत्रालय एग्रीमेंट का फॉर्मेट जारी करेगा जो आपके और आपके वेंडर के बीच होगा। एग्रीमेंट 5 सालों के लिए होता है। आपको एक समय अवधि के लिए अपनी छत पर सोलर प्लांट लगवाना होता है।

FAQ

ग्रिड कनेक्टेड रूफटॉप सोलर पीवी सिस्टम क्या है?

ग्रिड से जुड़े रूफटॉप या छोटे सौर फोटोवोल्टिक सिस्टम में डीसी पावर सौर पैनल से उत्पन्न पावर कंडीशनिंग का उपयोग करके एसी पावर में परिवर्तित किया जाता है। यूनिट, इन्वर्टर और ग्रिड को फीड किया जाता है। ग्रिड से जुड़े रूफटॉप सोलर के संचालन के तरीके को पीवी सिस्टम कहा जा सकता है।

Rail Kaushal Vikas Yojana 2022 – रेलवे में मिल रहा है निशुल्क प्रशिक्षण रोजगार
किसानों को साइकिल और ई-रिक्शा वितरण करेगी सरकार, जानें पूरी जानकारी
पशु क्रेडिट कार्ड योजना: मात्र 4% ब्याज दर पर पशुपालक ऐसे ले 3 लाख तक का लोन
Pan Card Kaise Banaye 2022: सिर्फ 2 मिनट में पैन कार्ड कैसे प्राप्त करें,
UP Rojgar Mela 2022: उत्तर प्रदेश रोजगार मेला 
Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *