यूपी की ग्राम पंचायतों को योगी सरकार का 1116 करोड़ का तोहफा

बुन्देलखंड में रविवार को पंचायती राज दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने तोहफों की बारिश की। प्रदेशभर की ग्राम पंचायतों को 1116 करोड़ की योजनाएं लोकार्पित करते हुए कहा कि अब स्मार्ट सिटी की तर्ज पर गांवों को भी स्मार्ट बनाया जाएगा। मुख्यमंत्री रविवार को जालौन में डकोर विकासखंड की ग्राम पंचायत ऐरी रमपुरा में जनचौपाल के लिए पहुंचे थे। यहीं से वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पंचायती राज के डिजिटल कार्यक्रम में जूम एप के जरिए शामिल हुए।

पंचायत राज दिवस पर ग्राम पंचायतों में अच्छा काम करने वालों को सम्मानित करने की कड़ी में सीएम यहां जिला पंचायत अध्यक्ष घनश्याम अनुरागी और प्रधान ओमकार पाल से मिले और उन्हें सम्मानित किया। पंचायती राज मंत्रालय ने दीनदयाल पंचायत सशक्तीकरण पुरस्कार के लिए प्रदेश के दो जनपद मिर्जापुर और जालौन का चयन किया है। इस जिला पंचायत ने प्रदेश में तीसरा स्थान प्राप्त किया है। यहां स्मार्ट गांवों का जिक्र करते हुए योगी ने मोदी के संकल्प को पूरा करने का आह्वान किया।

इस दौरान उन्होंने वित्त आयोग की 682.5 करोड़ की धनराशि से तैयार तकनीकी उपकरणों से युक्त 39,000  ग्राम सचिवालयों, स्वच्छ भारत मिशन ग्राम विधायक निधि के 90 करोड़ से बने 2000 सामुदायिक शौचालयों, वित्त आयोग की 306.7 करोड़ की धनराशि से प्रदेश की 15,759 ग्राम पंचायतों में लगाई गईं 7.10 लाख एलईडी लाइटों और राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान के तहत 33.6 करोड़ की लागत से बने 16 जिला पंचायत रिसोर्स सेंटर व प्रशक्षिण केंद्रों का लोकार्पण किया।  लगभग पौने दो घंटे के कार्यक्रम के बाद वह लखनऊ रवाना हो गए।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा, ऐरी रमपुरा ग्राम एक मॉडल है, अगर ऐसी सोच हर ग्राम पंचायत की होगी तो पंचायतें विकास की धुरी बनेंगी। विकास कार्य के लिए पैसों की कमी नहीं है। हम गांव के पंचायत भवनों को मजबूत करेंगे और हर काम ग्राम पंचायतों से ही हों, इसी सोच के साथ हम आगे बढ़ रहे हैं।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *