Important G.S.


1. प्रथम भारतीय महिला क्रिकेट टीम कप्तान – शांत रंगा स्वामी (कर्नाटक)
2. भारत की प्रथम महिला शासक – रजिया सुल्तान (1236)
3. भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की प्रथम महिला अध्यक्ष – एनी बेसेन्ट (1917)
4. भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की प्रथम भारतीय महिला अध्यक्ष – सरोजिनी नायडू
5. प्रथम क्रान्तिकारी महिला – मैडम कामा
6. देश के किसी राज्य विधायिकी की प्रथम महिला विधायिका – डॉ. एस. मुत्तुलक्ष्मी रेड्डी (मद्रास विधान परिषद् 1926)
7. भारत के किसी राज्य की विधान सभा की प्रथम महिला अध्यक्ष – श्रीमती शन्नो देवी
8. देश के किसी राज्य के मंत्रिमण्डल में प्रथम महिला मंत्री – विजय लक्ष्मी पंडित (संयुक्त प्रांत, 1937)
9. देश के किसी राज्य की प्रथम महिला मुख्यमंत्री – सुचेता कृपलानी (उत्तर प्रदेश, 1963)
10. देश के किसी राज्य की प्रथम महिला राज्यपाल – सरोजिनी नायडू (उत्तर प्रदेश)
11. देश के किसी राज्य की प्रथम दलित मुख्यमंत्री – मायावती (उत्तर प्रदेश)
12. भारत की प्रथम महिला प्रधानमंत्री – इंदिरा गांधी (1966)
13. केन्द्रीय व्यवस्थापिका का प्रथम महिला सांसद – राधाबाई सुबारायन (1938)
14. राज्य सभा की प्रथम महिला उपसभापति – बायलेट अल्बा (1962)
15. राज्य सभा की प्रथम महिला सचिव – बी. एस. रमा देवी (1993)
16. देश के किसी राज्य की मुख्यमंत्री बनने वाली प्रथम महिला अभिनेत्री – जानकी रामचंद्रन (तमिलनाडु 1987)
17. देश के किसी शहर की प्रथम महिला मेयर – तारा चेरियन (मद्रास 1957)
18. देश की प्रथम महिला राजदूत – विजयलक्ष्मी पंडित (सोवियत रूस 1947)
19. देश की प्रथम महिला न्यायिक अधिकारी (मुंसिफ) – अन्ना चांडी (भू. पू. ट्रावनकोर राज्य 1937)
20. संयुक्त राष्ट्र के महासभा की प्रथम महिला अध्यक्ष – विजयलक्ष्मी पंडित (1953)
21. देश की प्रथम महिला अधिवक्ता – रेगिना गुहा
22. देश की प्रथम महिला बैरिस्टर – कोर्नोलिया सोराबजी (इलाहाबाद उच्च न्यायालय, 1923)
23. उच्च न्यायालय की प्रथम महिला न्यायाधीश – न्यायमूर्ति अन्ना चांडी (केरल उच्च न्यायालय, 1959)
24. देश के किसी राज्य की प्रथम महिला मुख्य सचिव – पद्मा
25. उच्च न्यायालय की प्रथम महिला मुख्य न्यायाधीश – न्यायमूर्ति लीला सेठ (हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय, 1991)
26. सर्वोच्च न्यायालय की प्रथम महिला न्यायाधीश – न्यायमूर्ति मीरा साहिब फातिमा बीबी (1989)
27. आयकर न्यायाधिकरण की प्रथम महिला सदस्य – न्यायमूर्ति मीरा साहिब फातिमा बीबी
28. देश की प्रथम महिला सत्र न्यायाधीश – अन्ना चांडी (केरल, 1949)
29. उच्च न्यायालय बार एसोसिएशन की प्रथम महिला सचिव – प्रिया हिमोरानी
30. प्रथम महिला मजिस्ट्रेट – ओमना कुंजम्मा
31. संघीय लोक सेवा आयोग की प्रथम महिला अध्यक्ष – रोज मिलियन बैथ्यू (1992)
32. वेनिस फिल्मोत्सव में सर्वश्रेष्ठ फिल्म का गोल्डन लॉयन पुरस्कार पाने वाली प्रथम भारतीय महिला – मीरा नायर फिल्म-मानसून वैडिंग (2001)
33. सेना मेडल प्राप्त करने वाली प्रथम महिला – विमला देवी (1988)
34. योजना आयोग की प्रथम महिला अध्यक्ष – इंदिरा गांधी
35. देश की प्रथम महिला सर्जन – डॉ. प्रेमा मुखर्जी
36. अशोक चक्र (वर्तमान के शौर्य चक्र) प्राप्त करने वाली प्रथम महिला – ग्लोरिया बेरी (मरणोपरान्त)
37. किसी विश्वविद्यालय के छात्र संघ की प्रथम महिला अध्यक्ष – अंजु सचदेव (दिल्ली विश्वविद्यालय)
38. अशोक चक्र से सम्मानित प्रथम महिला – नीरजा मिश्र (मरणोपरान्त)
39. नोबेल पुरस्कार विजेता प्रथम महिला – मदर टेरेरसा (1978)
40. भारतरत्न से सम्मानित हाने वाली प्रथम महिला – इंदिरा गांधी (1971)
41. ज्ञानपीठ पुरस्कार पाने वाली प्रथम महिला – आशापूर्णा देवी (1976)
42. साहित्य अकादमी सम्मान पाने वाली प्रथम महिला – अमृता प्रीतम (1956)
43. मूर्ति देवी पुरस्कार से सम्मानित प्रथम महिला – प्रतिभा राय
44. अर्जुन पुरस्कार से विभूषित प्रथम महिला – एन. लम्सडेन (हॉकी, 1961)
45. लेनिन शांति पुरस्कार से सम्मानित प्रथम महिला – देविका रानी रोरिक (1969)
46. ऑस्कर पुरस्कार प्राप्त करने वाली प्रथम भारतीय व प्रथम महिला – भानु अथैवा (वेशभूषा सज्जा हेतु, फिल्म गांधी, 1983)
47. मैग्सेसे पुरस्कार पाने वाली प्रथम सम्मानित महिला – डॉ. अमृता पटेल (1992)
48. अन्तर्राष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्त करने वाली प्रथम अभिनेत्री – नरगिस दत्त (कार्लोबी बेरी फिल्मोत्सव का सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री पुरस्कार फिल्म मदंर इंडिया, 1958)
49. बर्लिन फिल्मोत्सव में पुरस्कार पाने वाली प्रथम महिला – मधुर जाफरी
50. सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री की राष्ट्रीय सम्मान प्राप्त करने वाली प्रथम अभिनेत्री – नरगिस दत्त (फिल्म रात और दिन, 1968)
51.अन्तर्राष्ट्रीय तैराकी मैराथन को जीतने वाली प्रथम महिला तैराक – अर्चना भारत कुमार पटेल (1988)
52. पावर लिफ्टिंग में विश्व कीर्तिमान कायम करने वाली प्रथम महिला – सुमिता लाहा (1989)
53. प्रथम महिला रैफरी (मुक्केबाजी) – रजिया शबनम
54. प्रथम अभिनेत्री जिसकी फिल्मों का सिंहावलोकन विदेश में (फ्रांस) करके सम्मानित किया गया – स्मिता पाटिल
55. विश्व की प्रथम कर्मशियल टेस्ट पायटल – कैप्टन सुसन डार्सी एवं कैप्टन रोज लोपर
56. वह प्रथम महिला जो केन्द्रीय उत्पाद शुल्क एवं सीमा शुल्क बोर्ड (CBEC) की सदस्य बनीं – सुश्री ईला चटर्जी
57. प्रथम भारतीय महिला जो प्रधानमंत्री की सचिव बनीं – श्रीमती सरला ग्रेवाल
58. वह प्रथम भारतीय महिला जिसने उल्लेखनीय नागरिक सेवा के लिए रैमन मैग्सेसे पुरस्कार प्राप्त किया – श्रीमती किरने बेदी
59. भारत की प्रथम लेनिन शांति पुरस्कार पाने वाली महिला – राजेश्वरी नेहरू (1960)
60. सर्वाधिक बार राष्ट्रीय स्क्वैस खिताब जीतने का श्रेय किसको है – भुवनेश्वरी कुमारी
61. भारत की प्रथम महिला चुनाव आयुक्त – श्रीमती बी. एस. रामादेवी (नवम्बर से दिसम्बर 1990)
62. महिलाओं में सर्वाधिक बार सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का राष्ट्रीय पुरस्कार पाने वाली महिला – शबाना आजमी
63. भारत की प्रथम नेत्रहीन महिला सरंपच – सुश्री सुधाबेन काशी भाई पटेल
64. भारत की प्रथम महिला अंतरिक्ष यात्री – कल्पना चावला
65. मध्य प्रदेश की प्रथम महिला जज – सरोजी सक्सेना
66. मिस यूनीवर्स का खिताब पाने वाली प्रथम भारतीय महिला – सुष्मिता सेन
67. भारत में प्रथम शास्त्रीय संगीत पर विदेशी भाषा में पुस्तक लिखने वाली – इन्द्राणी रहमान
68. भारत की प्रथम महिला विमान नियन्त्रक – सुश्री मुक्ति श्रीवास्तव
69. वह भारतीय महिला जो सबसे कम उम्र (19 वर्ष) में एवरेस्ट पर चढ़ने में सफलता पाई – डिकी डोल्मा
70. भारत की प्रथम महिला मुख्य महाडाकपाल – पद्मा बाला सुब्रह्मण्यम (चेन्नई)
71. एवरेस्ट शिखर पर दो बार चढ़ने वाली भारत की एकमात्र महिला – संतोष यादव
72. मुम्बई की प्रथम महिला नगर प्रमुख – निर्मला सामंत
73. केरल उच्च न्यायालय में नियुक्त होने वाली प्रथम महिला मुख्य न्यायाधीश – सुजाता बसन्त मनोहर
74. भारतीय उड्डयन के इतिहास में प्रथम बार हेलीकॉप्टर उड़ाने वाली महिला – फ्लाइट कैडेट चेरिल दत्ता
75. भारतीय वायु सेना की प्रथम महिला पायलट – हरित कौर देवल
76. भारत की प्रथम भारतीय रेल चालिका – सुरेखा यादव
77. भारत की प्रथम महिला ट्रैफिक कण्ट्रोलर (ट्रेन) – कविता कालरा अरोड़ा
78. भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परषिद् की प्रथम महानिदेशक – जी. वी. सत्यवती
79. प्रथम महिला मुख्य सचिव – निर्मला बुच
80. भारत की प्रथम एशियाई खेल में स्वर्ण पाने वाली महिला – कमलजीत सेंधू
81. वह प्रथम भारतीय महिला जिसका गाना रिकॉर्ड हुआ – शशिमुखी
82. भारत की प्रथम महिला जिसे जवाहरलाल नेहरू पुरस्कार दिया गया – मदर टेरेसा
83. भारत की प्रथम मुस्लिम आई.पी.एस. महिला – कु. नुजहत खान
84. कांग्रेस की अध्यक्ष बनने वाली प्रथम भारतीय महिला – सरोजिनी नायडू (1925)
85. पदम्श्री पुरस्कार पाने वाली प्रथम भारतीय फिल्मी कलाकार – नरगिस दत्त (1958)
86. भारत की प्रथम महिला क्रिकेट कमेंटेटर का नाम – चंद्रा नायडू (1977 इंदौर में)
87. भारत की प्रथम महिला डाकिया – के पद्माक्षी अम्मा
88. राष्ट्रीय महिला कोष के प्रथम संचालन मंडल की अध्यक्ष – बासब राजेश्वरी
89. प्रथम भारतीय महिला लेखिका जिसे ब्रिटेन का बुकर पुरस्कार दिया गया – अरुन्धती राय (दि गॉड ऑफ स्माल थिंग्स)
90. भारत की प्रथम महिला जिन्हें भारत एवं स्काउट गाइड के मुख्य आयुक्त पद पर निर्वाचित होने का गौरव प्राप्त हुआ – माणिक वर्सले
91. पंजाब की प्रथम महिला मुख्यमंत्री – राजिन्दर कौर भट्टल
92. भारत की प्रथम महिला उपन्यासकार – स्वर्णकुमारी देवी
93. मजिस्ट्रेट बनने वाली प्रथम भारतीय महिला – मार्गरेट
94. भारत की प्रथम अंतरिक्ष विज्ञानी महिला – सविता रानी
95. साहित्य अकादमी का फैलोशिप पाने वाली प्रथम भारतीय महिला – महादेवी वर्मा (1979)
96. एवरेस्ट पर चढ़ने वाली प्रथम भारतीय महिला – बछेन्द्री पाल
97. प्रथम भारतीय महिला नौचालन इंजीनियर बनने का गौरव पाया – सोनाली बनर्जी
98. भारत की प्रथम महिला मर्चेन्ट नेवी ऑफिसर – सोनाली बनर्जी (जुलाई 2001)
99. भारत की प्रथम महिला विदेश सचिव – चोकिला अय्यर
100. केन्द्रीय फिल्म सेंसर बोर्ड की प्रथम महिला अध्यक्ष – आशा पारिख


विश्व के प्रमुख व्यक्ति एवं उनके कार्य-
1. इंटरनेट के जनक – विन्टन जी. सर्प
2. मोबाइल फोन के जनक – मार्टिन कूपर
3. www वल्र्ड वाइड वेव के जनक- टिम बनर्स
4. क्लोनिंग – इयान विल्मुट
5. जीनोम परियोजना- माइकल कार्लिन्स
6. उपग्रह प्रणाली- आर्थर क्लार्क
7. विश्व के सात नये आश्चर्य – बर्नार्ड बेबर
8. इंटरपोल की स्थापना – जोहान्न स्क्रेबर
9. रेड क्रास की स्थापना – हेनरी डयूनांट
10. नर्सिंग व्यवस्था – फ्लोरेंस नाइटिंगेल
11. स्काऊट एण्ड गाइड- वेडेन पावेल
12. ब्रेल लिपि -लुई बेल
13. ईसाई धर्म – ईसा मसीह
14. मुस्लिम धर्म – मोहम्मद पैगम्बर
15. धर्म सुधार – मार्टिन लूथर किंग
16. पारसी धर्म – जरथुस्त्र (जोरास्टियन)
17. जर्मन साम्राज्य – बिस्मार्क
18. फासिस्टवाद- मुसोलिनी
19. रूसी क्रांति – लेनिन
20. चीनी क्रांति – माओत्से तुंग
21. समाजवाद – कार्ल मार्क्स
22. विकासवाद का सिद्धांत – चार्ल्स डार्विन
23. दासप्रथा की समाप्ति- अब्राहिम लिंकन
24. डाक टिकिट के जनक – रोनोल्ड हिल
25. पुलिस व्यवस्था – अगस्ट्स
26. मोनालिसा – लियोनार्डो-द-विन्सी
27. टेस्ट ट्यूब बेबी तकनीक -डा0 राबर्ट एडवडर्स एवं पैट्रिक स्टेप्टो
28. प्रत्यक्षवाद के जनक- अगस्त काम्टे
29. आधुनिक टुर्की का निर्माता -मुसतफा कमाल पाशा
30. इटली का एकीकरण – कैबूर
31. अमरीका की खोज – कोलम्बस (1492)
32. नेपोलियन को पराजित करने वाला सेनापति- ड्यूक आफ वेलिंगटन
33. इटली में लालकुर्ती दल – गैरीबाल्डी
34. पक्की सड़कों को जन्मदाता – जान लंदन
35. वेदो का अध्ययन – मैक्समूलर
36. राष्ट्रसंघ की स्थापना – बुडरो विल्सन
37. संयुक्त राष्ट्र संघ की स्थापना- फ्रेकलिन रूजवेल्ट
38. चार बार इंग्लेण्ड का प्रधानमंत्री बनने वाला व्यक्ति – ग्लैडस्टन
39. चार बार अमरीका का राष्ट्रपति बनने वाला व्यक्ति- रूजवेल्ट
40. गुटनिरपेक्ष आन्दोलन के संस्थापक – जवाहर लाल नेहरू कर्नल नासिर एवं मार्शल टीटो
41.फुटबॉल का जादूगर – पेले
42. सामाजिक समझौते का सिद्धांत -हाब्स, लाक, रूसो
43. हरित क्रांति – नार्मन बोरलांग (मैक्सिको)
44. पंचवर्षीय योजना – जोसेफ स्टालिन
45. अमरीकी स्वतंत्रता घोषणापत्र – थामस जैफरसन
46. स्वेज नहर का निर्माता- फर्डीनेण्ड-डी-लेसेप्स
47. जूलियस सीजर का हत्यारा – बू्ट्स
48. अब्राहम लिंकन का हत्यारा- जान विल्कस बूथ
49. जेम्स गारफील्ड का हत्यारा- चार्ल्स टीपू
50. विलियम मैकिन्ले का हत्यारा – लियोन जोलयोश्च
51. जान एफ0 कैनेडी का हत्यारा -ली-हार्वे-आस्वाइल्ड
52. डिजनीलैण्ड के निर्माता – वाल्ट डिजनी
53. द्वितीय विश्व युद्ध में मित्र राष्ट्रों की सेना का कमाण्डर – आइजन हावर
54. अंग्रेजी काव्य के पिता – ज्योफ्रे चौसर
55. जंगल बुक के लेखक – रूडयार्ड किपलिंग
56. के.जी. शिक्षा – फ्रीवेल
57. नरभक्षी शासक- ईदी अमीन
58. प्रसिद्ध भविष्यवेत्ता – नास्त्रोडेमस
59. बंगलादेश के जनक – शेख मुजीबुर रहमान
60. मिस बल्र्ड प्रतियोगिता के जनक- एरिक मोर्ली
61. हिरोशिमा पर परमाणु बम गिराने वाला पायलट – विलियम फिरकी
62. नागासाकी पर परमाणु बम गिराने वाला पायलट – जार्ज स्वीनी
63. जर्मनी में नाजीवाद – हिटलर
64. जापान पर परमाणु बम गिराने का आदेश देने वाले अमरीकी राष्ट्रपति – हेनरी ट्रूमेन
65. राजनीति विज्ञान के जनक- मैकियावेली
66. उत्परिवर्तनवाद के जनक -हयूगो-डी-ब्रीज
67. जीवन का संशलेषण -हरगोविन्द खुराना
68. डी0एन0ए0 की संरचना – वाटसन एवं क्रिक
69. डायनामाइट के अविष्कारक -अल्फ्रेड नोबेल
70. आनुवंशिकता के जनक – ग्रेगर जान मेंडल
71. जनसंख्या सिद्धांत – माल्थस
72. इतिहास के पिता – हिरोडोरस
73. भूगोल के जनक – हिकेटियस
74. माउण्ट एवरेस्ट की खोज- जार्ज एवरेस्ट
75. समाज शास्त्र के जनक – अगस्त काम्टे
76. डी0एन0ए0 फिंगर प्रिंटिंग की खोज – एलेक जेफ्रे
77. एण्डोनेशिया के स्वतंत्रता संग्राम सेनानी-हो-ची-मिन
78. अमरीकी क्रांति के जन्मदाता -जार्ज वाशिंगटन
79. ओलंपिक खेलो के जनक -बैरो-पियरे-द-कूबतीन
80. ऐलोपैथी चिकित्सा के जनक- हिप्पोक्रेट्स
81. होम्योपैथी के जनक- सेम्युअल हेनीमैन
82. टिंवक्ल-टिंवक्ल लिटिल स्टार कविता के लेखक- एन.एण्ड जेन टेलर
83. पृथ्वी का सर्वप्रथम चक्कर लगाया – मैगेलन
84. मानसून हवाओं की खोज – हिप्पेलस
85. चीन की खोज – मार्कोपोलो
86. तस्मानिया एवं न्यूजीलैण्ड की खोज- तस्मान
87. ग्रहों की खोज – कैपलर
88. भारत की समुद्री मार्ग से खोज- वास्कोडिगामा
89. कागज का अविष्कारक – साईलुन
90. फिलीस्तीन मुक्ति संगठन के संस्थापक- महमूद अब्बास
91. वल्र्ड वाइल्ड फंड { WWF } के संस्थापक – पीटर स्काट माउंटफोर्ट एवं मैक्स निकोलसन
92. जाम्बिया की खोज- डेविड लिविगस्टोन
93. कांगों नदी की खोज- डियागो काओं
94. पनामा नहर का निर्माता- फिलिप जीन वारिल्ला


अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न – संसद
प्रश्न 1 : भारत की संसद की संरचना क्या है ?
उत्तर : भारत के संविधान के अनुच्छेद 79 के अनुसार भारत की संसद, भारत के राष्ट्रपति और संसद के दोनों सदनों
से मिल कर बनेगी जिनके नाम राज्य सभा और लोक सभा होंगे।
प्रश्न 2 : भारत के राष्ट्रपति का निर्वाचन कौन करता है ?
उत्तर : संसद के दोनों सदनों के निर्वाचित सदस्य और राज्यों की विधान सभाओं के निर्वाचित सदस्यों से मिल कर
बनने वाले निर्वाचक गण के सदस्य भारत के राष्ट्रपति का निर्वाचन करते हैं।
प्रश्न 3 : राष्ट्रपति के निर्वाचन की रीति क्या है ?
उत्तर : संविधान के अनुच्छेद 55 के अनुसार जहाँ तक व्यवहार्य हो राष्ट्रपति के निर्वाचन में भिन्न-भिन्न राज्यों के प्रतिनिधित्व के पैमाने में एकरूपता होनी आवश्यक है। राज्यों में आपस में ऐसी एकरूपता प्राप्त कराने के लिए विधान सभा का प्रत्येक निर्वाचित सदस्य जितने मत का हकदार होगा उनकी संख्या निम्नलिखित रीति से अवधारित की जाएगी, अर्थात:-
(क) किसी राज्य की विधान सभा के प्रत्येक निर्वाचित सदस्य के उतने मत होंगे जितने कि एक हजार के गुणित उस भागफल में हों जो राज्य की जनसंख्या को उस विधान सभा के निर्वाचित सदस्यों की कुल संख्या से भाग देने पर आएं;
(ख) यदि एक हजार के उक्त गुणितों को लेने के बाद शेष पाँच सौ से कम नहीं है तो प्रत्येक सदस्य के मतों की संख्या में एक और जोड़ दिया जाएगा;
(ग) संसद के प्रत्येक सदन के प्रत्येक निर्वाचित सदस्य के मतों की संख्या वह होगी जो राज्यों की विधान सभाओं के सदस्यों के लिए नियत कुल मतों की संख्या का संसद के दोनों सदनों के निर्वाचित सदस्यों की कुल संख्या से भाग देने पर आए जिसमें आधे से अधिक भिन्न को एक गिना जाएगा और अन्य भिन्नों की उपेक्षा की जाएगी। राष्ट्रपति का निर्वाचन आनुपातिक प्रतिनिधित्व पद्धति के अनुसार एकल संक्रमणीय मत द्वारा होगा और ऐसे निर्वाचन में मतदान गुप्त होगा।
प्रश्न 4 : राष्ट्रपति की पदावधि क्या है ?
उत्तर : राष्ट्रपति अपने पद ग्रहण की तारीख से पाँच वर्ष की अवधि तक पद धारण करेगा।
प्रश्न 5 : क्या कोई ऐसी स्थिति होगी जिसमें राष्ट्रपति पाँच वर्ष की अवधि से पहले अपने पदभार का परित्याग कर दे ?
उत्तर : हाँ ऐसी दो स्थितियां होंगी। पहली
जब राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति को संबोधित अपने हस्ताक्षर सहित लेख द्वारा अपना पद त्याग करता है और दूसरी जब संविधान का अतिक्रमण करने पर राष्ट्रपति को महाअभियोग द्वारा पद से हटाया जाता है।
प्रश्न 6 : राष्ट्रपति के महाअभियोग की रीति क्या है ?
उत्तर : संविधान के अनुच्छेद 61 के अनुसार संविधान के अतिक्रमण के लिए राष्ट्रपति पर महाअभियोग चलाया जाना हो तो अभियोग संसद के दोनों सदनों में से किसी एक के द्वारा लगाया जाएगा। ऐसा कोई भी अभियोग तब तक
नहीं लगाया जाएगा जब तक कि
(क) ऐसा अभियोग लगाने का प्रस्ताव एक ऐसे संकल्प में अंतर्विष्ट न हो जिसे सदन के कुल सदस्यों की संख्या के कम से कम एक-चौथाई सदस्यों के द्वारा हस्ताक्षर सहित लेख द्वारा कम से कम चौदह दिनों की सूचना देने के पश्चात् प्रस्तावित किया गया हो और
(ख) ऐसा संकल्प सदन की कुल सदस्यता के कम से कम दो-तिहाई बहुमत के द्वारा पारित किया गया हो।
प्रश्न 7 : क्या राष्ट्रपति दूसरी पदावधि के लिए पुनर्निर्वाचन का पात्र है ?
उत्तर : हाँ संविधान के अनुच्छेद 57 के अनुसार राष्ट्रपति उस पद के लिए पुनर्निर्वाचन का पात्र है।
प्रश्न 8 : राष्ट्रपति निर्वाचित होने के लिए अर्हताएं क्या है ?
उत्तर : संविधान के अनुच्छेद 58 के अनुसार कोई भी व्यक्ति राष्ट्रपति निर्वाचित होने का पात्र नहीं होगा यदि वह भारत का नागरिक नहीं है; पैंतीस वर्ष की आयु पूरी नहीं की है; और लोक सभा का सदस्य निर्वाचित होने के लिए अर्हित नहीं है। कोई व्यक्ति, जो भारत सरकार के या किसी राज्य की सरकार के अधीन अथवा उक्त सरकारों में से किसी के नियंत्रण में किसी स्थानीय या अन्य प्राधिकारी के अधीन कोई लाभ का पद धारण करता है, राष्ट्रपति निर्वाचित होने का पात्र नहीं होगा।
प्रश्न 9 : क्या संसद या राज्य विधान मंडल का सदस्य राष्ट्रपति बन सकता है ?
उत्तर : राष्ट्रपति, संसद के किसी सदन का या किसी राज्य के विधान मंडल के किसी सदन का सदस्य नहीं होगा और यदि ऐसा सदस्य राष्ट्रपति निर्वाचित हो जाता है तो यह समझा जाएगा कि उसने उस सदन में अपना स्थान राष्ट्रपति के रूप में अपने पद ग्रहण की तारीख से रिक्त कर दिया है।
प्रश्न 10 : भारत के उपराष्ट्रपति का निर्वाचन कौन करता है ?
उत्तर : संसद के दोनों सदनों के सदस्यों से मिलकर बनने वाले निर्वाचक गण के सदस्य उपराष्ट्रपति का निर्वाचन करते हैं।
प्रश्न 11 : उपराष्ट्रपति के निर्वाचन की रीति क्या है ?
उत्तर : उपराष्ट्रपति का निर्वाचन आनुपातिक प्रतिनिधित्व पद्धति के अनुसार एकल संक्रमणीय मत द्वारा होता है और मतदान गुप्त होता है।
प्रश्न 12 : उपराष्ट्रपति की पदावधि क्या है ?
उत्तर : उपराष्ट्रपति अपने पद ग्रहण की तारीख से पाँच वर्ष की अवधि तक पद धारण करेगा।
प्रश्न 13 : क्या कोई ऐसी स्थिति होगी जिसमें उपराष्ट्रपति पाँच वर्ष की अवधि से पहले अपने पदभार का परित्याग कर दे ?
उत्तर : हाँ ऐसी दो स्थितियाँ होंगी। पहली जब उपराष्ट्रपति, राष्ट्रपति को संबोधित अपने हस्ताक्षर सहित लेख द्वारा अपना पद त्याग दे और दूसरी जब उसे पद से हटा दिया जाए।
प्रश्न 14 : उपराष्ट्रपति को हटाने की क्या प्रक्रिया है ?
उत्तर : उपराष्ट्रपति राज्य सभा के ऐसे संकल्प द्वारा अपने पद से हटाया जा सकेगा जिसे राज्यसभा के समस्त सदस्यों के बहुमत ने पारित किया है और जिससे लोक सभा सहमत है। कोई संकल्प तब तक प्रस्तावित नहीं किया जाएगा जब तक कि उस संकल्प को प्रस्तावित करने के आशय की कम से कम चौदह दिन की सूचना न दे दी गई हो।
प्रश्न 15 : उपराष्ट्रपति निर्वाचित होने के लिए अर्हताएं क्या है ?
उत्तर : संविधान के अनुच्छेद 66 के अनुसार कोई व्यक्ति उपराष्ट्रपति निर्वाचित होने के लिए पात्र नहीं होगा यदि वह भारत का नागरिक नहीं है, उसने पैंतीस वर्ष की आयु पूरी नहीं की है और वह राज्य सभा का सदस्य निर्वाचित होने के लिए अर्हित नहीं है। कोई व्यक्ति जो भारत सरकार के या किसी राज्य की सरकार के अधीन अथवा उक्त सरकारों में से किसी के नियंत्रण में किसी स्थानीय या अन्य प्राधिकारी के अधीन कोई लाभ का पद धारण करता है, उपराष्ट्रपति निर्वाचित होने का पात्र नहीं होगा।
प्रश्न 16 : क्या राष्ट्रपति अथवा उपराष्ट्रपति के निर्वाचन को चुनौती दी जा सकती है ?
उत्तर : हाँ। संविधान के अनुच्छेद 71 के अनुसार राष्ट्रपति या उपराष्ट्रपति के निर्वाचन से उत्पन्न या संसक्त सभी शंकाओं और विवादों की जांच और विनिश्चय उच्चतम न्यायालय द्वारा किया जाएगा। राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति निर्वाचन अधिनियम, 1952 की धारा 14 के अनुसार एक निर्वाचन अर्जी उच्चतम न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत की जा सकती है।
प्रश्न 17 : राज्य सभा के अधिकतम कितने सदस्य हो सकते हैं ?
उत्तर : 250 राज्य सभा के अधिकतम सदस्यों की कुल संख्या 250 हो सकती है। संविधान के अनुच्छेद 80 में यह उपबंधित है कि 12 सदस्य भारत के राष्ट्रपति द्वारा मनोनीत किए जाएंगे और 238 से अनधिक प्रतिनिधि, राज्य विधान सभाओं के निर्वाचित सदस्यों द्वारा आनुपातिक प्रतिनिधित्व पद्धति के अनुसार एकल संक्रमणीय मत द्वारा निर्वाचित किए जाएंगे।
प्रश्न 18 : क्या ये सभी निर्वाचित होंगे ?
उत्तर : नहीं उनमें सभी निर्वाचित नहीं होंगे। जैसा कि उपर उल्लेख किया गया है, 12 सदस्य मनोनीत होते हैं और 238 निर्वाचित।
प्रश्न 19 : राज्य सभा की अवधि क्या है ?
उत्तर : राज्य सभा एक स्थायी सदन है और भारत के संविधान के अनुच्छेद 83(1) के अनुसार राज्य सभा का विघटन नहीं होगा। परन्तु उसके सदस्यों में से यथा संभव निकटतम एक-तिहाई सदस्य, प्रत्येक द्वितीय वर्ष निवृक्त हो जाएंगे और उन्हें प्रतिस्थापित करने के लिए उतने ही सदस्य निर्वाचित किए जाएंगे।
प्रश्न 20 : राज्य सभा के सदस्यों का निर्वाचन कौन करता है ?
उत्तर : राज्य विधान सभा के निर्वाचित सदस्य। भारत के संविधान के अनुच्छेद 80(4) में यह उपबंधित है कि राज्य सभा के सदस्य राज्य विधान सभाओं के निर्वाचित सदस्यों द्वारा आनुपातिक प्रतिनिधित्व पद्धति के अनुसार एकल संक्रमणीय मत द्वारा निर्वाचित किए जाएंगे।
प्रश्न 21 : राज्य सभा के सदस्यों को कौन मनोनीत करता है ?
उत्तर : भारत का राष्ट्रपति भारत का राष्ट्रपति राज्य सभा के 12 सदस्यों को, जैसा कि पहले ऊपर उल्लिखित किया गया है, मनोनीत करता है।
प्रश्न 22 : क्या मनोनीत करने के लिए कोई विशेष अर्हताएं हैं ?
उत्तर : हाँ। भारत के संविधान के अनुच्छेद 80(3) में यह उपबंधित है राष्ट्रपति के द्वारा मनोनीत किए जाने वाले सदस्यों को साहित्य, विज्ञान, कला और समाज सेवा के मामलों का विशेष ज्ञान या व्यावहारिक अनुभव होना चाहिए। अनुच्छेद 84 (ख) में यह शर्त है कि किसी व्यक्ति की आयु 30 (तीस) वर्ष से कम नहीं होनी चाहिए।
प्रश्न 23 : लोक सभा की अवधि क्या है ?
उत्तर : सामान्य अवधि 5 वर्ष है। संविधान के अनुच्छेद 83(2) में यह शर्त है कि लोक सभा की सामान्य अवधि अपने प्रथम अधिवेशन के लिए नियत तारीख से पाँच वर्ष की होगी और अधिक नहीं। फिर भी राष्ट्रपति सदन को पाँच वर्ष से पहले भी भंग कर सकता है।
प्रश्न 24 : लोक सभा के सदस्यों की अधिकतम संख्या क्या है ?
उत्तर : 550 लोक सभा के निर्वाचित सदक्यों की अधिकतम संख्या 550 है। संविधान के अनुच्छेद 81 में उपबंधित है कि राज्यों से 530 से अनधिक सदस्य और संघ राज्य क्षेत्र से 20 से अनधिक सदस्य निर्वाचित नहीं होंगे। संविधान के अनुच्छेद 331 में उपबंधित है कि भारत का राष्ट्रपति, यदि उसकी यह राय है कि लोक सभा में आंग्ल भारतीय समुदाय का\ प्रतिनिधित्व पर्याप्त नहीं है, तो 2 सदस्यों से अनधिक सदस्य आंग्ल भारतीय समुदाय से मनोनीत कर सकता है।
प्रश्न 25 : लोक सभा के सदस्य किस प्रकार निर्वाचित किए जाते हैं ?
उत्तर : लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम, 1951 की धारा 14 के अधीन भारत का राष्ट्रपति एक अधिसूचना के द्वारा लोक सभा में अपने सदस्यों को निर्वाचित करने के लिए निर्वाचन क्षेत्रों से अपेक्षा करेगा। तत्पश्चात् संसदीय निर्वाचन क्षेत्र के निर्वाचक सीधे तौर पर लोक सभा के सदस्यों का निर्वाचन करेंगे। भारत के संविधान के अनुच्छेद 326 के अनुसार लोक सभा में निर्वाचन व्यस्क मताधिकार के आधार पर होगा।
प्रश्न 26 : एक संसदीय निर्वाचन क्षेत्र के निर्वाचकों द्वारा कितने सदस्यों का निर्वाचन किया जाता है?
उत्तर : एक। प्रत्येक संसदीय निर्वाचन क्षेत्र केवल एक सदस्य निर्वाचित करेगा।
प्रश्न 27 : क्या यह स्थिति प्रारम्भ से है ?
उत्तर : नहीं 1962 से पहले दोनों एकल-सदस्यीय और बहु- सदस्यीय निर्वाचन क्षेत्र थे। यह बहु- सदस्यीय निर्वाचन क्षेत्र एक से अधिक सदस्यों को निर्वाचित किया करते थे। बहु-सदस्यीय निर्वाचन क्षेत्रों को 1962 में समाप्त कर दिया गया।
प्रश्न 28 : भारत में पहला साधारण निर्वाचन कब हुआ था ?
उत्तर : 1951-52 भारत में पहला साधारण निर्वाचन 1951-52 में हुआ था।
प्रश्न 29 : उस समय लोक सभा की कुल सदस्य संख्या क्या थी ?
उत्तर : उस समय लोक सभा की कुल सदस्य संख्या 489 थी


Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Scroll to Top