बजट (Union Budget) 31 जनवरी 2022 के प्रमुख तथ्य।

११ बजे भारत के राष्ट्रपति के सम्बोधन के द्वारा शुरू किया गया है. इसमें श्री राम नाथ गोविन्द जी ने सर्कार के द्वारा बिभिन्न योजनाओ के बारे में जानकारी दी। साथ में कोरोना महामारी का भी जिक्र किया, जिससे भारत सहित समस्त विश्व पर कोरोना के प्रभाव का जिक्र किया। भारत के कृषि के बारे में बिस्तार से बात कही, इसमें समस्त क्षेत्रो का जिक्र किया है. किसान रेल सेवा का जिक्र किया।

इसमें राष्ट्रपति ने छोटे किसान का जिक्र किया जो की देश में 80% है. इसमें निवेश के बारे में सरकार की उपलब्धि का जिक्र किया। बर्षा के जल श्रोतो के बारे में चर्चा की. नदियों को आपस में जोड़ने की बात का जिक्र किया जिसमे 45 हजार करोण रुपये दिए गए है.

महिला शसक्तीकरण पर बात कही अब महिला और पुरुष की सदी की उम्र को 21 बर्ष कर दिया गया है. देश में महिलाओ की साक्षरता की बृद्धि हुई है. NDA में महिलाओ को पहली बार शुरू किया है. जिससे सेना में महिलाओ की भागीदार बढ़ेगी।

उच्च शिक्षा के लिए स्किल इंडिया और ugc के पाठ्यकर्म में महत्वपूर्ण बदलाव किया है. टोकियो ओलम्पिक का जिक्र किया। खेलो इंडिया का जिक्र किया। दिवांग के लिए भी खेल को प्रोत्साहित करने के लिए कई योजना शुरू की गई है.

स्टार्टप योजना के बारे बात कही 7400 करोण से अधिक कई स्टार्टअप उभरकर सामने आयी है. पेटेंट एंड ट्रेडमार्क को भी अधिक सरल बना दिया गया है. देश में GST में प्राप्त उपलब्धि का जिक्र किया है. देश का विदेशी मुद्रा भण्डार 633 अरब डालर हो है. देश में सबसे ज्यादा मोबाइल बन रहे है. सेमीकंडक्टर के बारे में बात कही जिमे 76000 करोण का पैकेज की बात कही.

थोक और खुदरा व्यापारियों व स्ट्रीट वेंडर्स को उद्यम पोर्टल पर रजिस्टर करने की अनुमति दी थी ताकि उन्हें प्रायरिटी सेक्टर लेंडिंग का लाभ मिल सके खादी की सफलता का भी विशेष उल्लेख करूंगा आजादी की लड़ाई में बापू के नेतृत्व में देश की चेतना का प्रतीक रही खादी एक बार फिर छोटे उद्यमियों का संबल बनाई सरकार के प्रयासों से 2014 की तुलना में देश में खादी की बिक्री 3 गुना बढ़ी है सामाजिक असमानता को पढ़ने वाले नए रोजगार पैदा होते हैं दिल्ली मुंबई एक्सप्रेसवे पूरा होने के करीब है जो कि भारत का सबसे लंबा और सबसे तेज एक्सप्रेस के होगा सरकार को पंढरपुर तीर्थ को जोड़ने वाले संत ज्ञानेश्वर मार्ग और संत तुकाराम पालखी मार्ग के चौड़ीकरण का काम शुरू करने का सौभाग्य मिला

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि मेरी सरकार की नीतियों की वजह से आज भारत उन देशों में है जहां इंटरनेट की कीमत सबसे कम है तथा स्मार्ट फोन की कीमत भी सबसे कम है। इसका बहुत बड़ा लाभ भारत की नौजवान पीढ़ी को मिल रहा है।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि मेरी सरकार के नीतिगत निर्णय और प्रोत्साहन से विभिन्न पुलिस बलों में महिला पुलिस-कर्मियों की संख्या में, 2014 के मुकाबले दोगुनी से ज्यादा की बढ़ोतरी हो चुकी है। 

राष्ट्रपति कोविंद ने कहा कि सरकार द्वारा किए गए प्रयासों के परिणामस्वरूप योग, आयुर्वेद एवं पारंपरिक चिकित्सा पद्धतियों की लोकप्रियता लगातार बढ़ रही है। साल 2014 में आयुष उत्पादों का निर्यात 6600 करोड़ रुपये का था जो कि अब बढ़कर 11 हजार करोड़ रुपये हो गया। 

Leave a Reply