झील

सामान्य रूप में झील भूतल गहरे व विस्तृत होते हैं जिनमें जल भरा रहता है। दूसरे शब्दों मे झीलें स्थलखण्ड के आन्तरिक भागों में स्थित जलपूर्ण गर्त हैं झीलें बनती हैं, विकसित होती हैं तथा धीरे-धीरे निक्षेपित पदार्थाें से भरकर दलदल बन जाती हैं।

झीलों की विशेषतायें:-

  •   झीलें परिवर्तनशील होती हैं।
  •   कुछ झीलें पर्वत, पठारों पर हजारों किमी0 की ऊॅचाई में तथा कुछ झीलें सागर से नीची रहती हैं।
  •  कुछ झीलें गहरी तथा कुछ झीलें उथली होती हैं।
  •   गर्मी के मौसम में सूख जाने वाले झील को मौसमी झील कहा जाता है।

झीलों का वर्गीकरण

भूसंचलन से निर्मित झील हिमानीकृत झील (फिनलैण्ड की झीलें) ज्वालामुखी क्रिया से निर्मित झील नदियों द्वारा निर्मित झील पवन द्वारा निर्मित झील (प्लायाझील)

अभिनतीय झील (जनेवा झील) दरार घाटी झील (टंगानिका, न्यासा, अल्बर्ट मृतसागर बैकाल) नवस्थल झील(कैस्यिन सागर) प्रपाती झील(वांशिगन झील) गोखुर झील(वुलर झील) डेल्टाई झील (कोलेरू झील मायेह झील)
लावा बांध झील टाना झील, (इथोपिया) निकारागुआ (उत्तरी अमेरिका) क्रेटर झील पुष्कर (भारत) टिटिकाका (बोलीविया) लावा क्षेत्र की झील (दक्कन के पठार में स्थित झील)

विश्व के प्रमुख झील

  •  ग्रेट बीयर झील:– हिमानी निर्मित मीठे पानी की झील, पोर्ट रेडियम इसी के पूर्वी तट पर स्थित है
  •  ग्रेट स्लैव झील:- हिमानी निर्मित मीठे पानी की झील, मैकेंजी नदी यहीं से निकलती हैं।
  • अथावास्का झील:- हिमानी निर्मित मीठे पानी की झील, यूरेनियम सिटी इसके उत्तरी तट पर
  • विनिपेग झील:– हिमानी निर्मित मीठे पानी की झील, नेल्सन नदी यहीं से निकलती है। इस झील के दक्षिणी भाग में विनिपेग नगर स्थित है, जो विश्व की गेहॅू मंडी के नाम से प्रसिद्ध है।
  •  रेडियर झील:- हिमानी निर्मित मीठे पानी की झील।
  •  गे्रट लेक्स:- प्रमुख औद्यौगिक और परिवहन क्षेत्र, इसके अंतर्गत 5 झींले शामिल हैं। सुपीरियर, ह्यूरन मिशीगन, इरी व ओंटारियों। इनमें मिशिगन को छोड़कर शेष झीलें  व कनाडा की सीमा बनाती हैं। मिशिगन पूर्वतः । में स्थित है। गे्रट लेक्स की सभी झीलें हिमानी निर्मित व मीठे पानी की हैं। सुपीरियर पीठे पानी की विश्व की सबसे बड़ी झील है। डुलुथ नगर इसके पश्चिमी तट पर बसा हुआ है। सुपीरियर झील सू नहर द्वारा ह्यूरन झील से जुड़ी है। इरी व आंेटारियों के मध्य नियाग्रा प्रपात स्थित है।
  • ग्रेट साल्ट:-  के ग्रेट बेसिन में स्थित अत्याधिक लवणता 220ः युक्त झील जिसके दक्षिणी तट पर साल्ट लेक सिटी स्थित है।
  •  निकारागुआ:- विवर्तनिक प्रक्रिया से निर्मित यह झील कोस्टारिका व निकरागुआ की सीमा बनाती है।
  •  मारा कैबो झीलः- वेनेजुएला में स्थित यह लैगून झील तेल उत्पाद के लिए प्रसिद्ध है। टैंकर पत्तन।
  •  टिटिकाका झील:- बोलविया के तट पर स्थित विश्व की सबसे ऊॅची नौकागम्य झील, क्रेटर झील का उदाहरण

क्रेटर झील का उदाहरण।

  •  पोपो झील:- बोलीविया में स्थित, विवर्तनिक प्रक्रिया से निर्मित मीठे पानी का झील।
  •  वोल्टा झील:- घाना में स्थित मीठे पानी की झील।
  •  चाड झील:- यह झील चाड, नाइजर नाइजीरिया व कैमरून की सीमा बनाती है।
  •  विक्टोरिया झील:- दो भ्रंशों के मध्य स्थित झील, नील नदी यहीं से निकलती है। गुगाडा, केन्या व तंजानिया की सीमा का निर्माण।
  • न्यासा/मलावी झील:-  दरारी झील, तंजनिया, मोजाम्बिक व मलावी का सीमा निर्माण।
  • एडवर्ड झील:- भ्रंश दरारी युगांडा व जायरे की सीमा का निर्माण।
  •  तुर्कान झील:- भ्रंश झील, केन्या इथियोपिया व सूडान की सीमा का निर्माण।
  • टाना झील:- ब्लू नील इसी से निकलती है।
  •  नासिर झील:- मिस्र के अस्वान बांध के पीछे मानव निर्मित झील।
  •  ओनकाल झील:– युगांडा में स्थित मानव निर्मित झील।
  •  एवरनन झील:- इटली में स्थित मानव निर्मित झील।
  •  लाडोगा व ओनेगा झील:- रूस में स्थित हिमानी निर्मित झील।
  • बैकाल झील:- साइबेरिया क्षेत्र में विश्व की सबसे गहरी झील भ्रंश दरारी झील का उदाहरण। कैस्पियन सागर झील:- खारे पानी की विश्व की सबसे बड़ी झील बोल्गा व यूराल नदियां यहीं गिरती हैं। इसके दक्षिणी मध्य पूर्वी भाग को काराबुगास की खाड़ी के नाम से जाना जाता है, जो अत्याधिक लवणता 170ः का क्षेत्र है।
  • अरल सागर:- कजाकिस्तान व उज्बेकिस्तान की सीमा निर्धारण करने वाली झील, जिसमें सीरदरिया व अमूदरिया नदियाॅ गिरती हैं।
  • वाॅन झील:- तुर्की स्थित विश्व की सर्वाधिक लवणतायुक्त झील 330ः।मृत सागर:- इजरायल व जाॅर्डन की सीमा पर स्थित विश्व की दूसरी सबसे अधिक खारी झील 236ः। यह विश्व की सबसे नीची झील है जिसकी तली सागर तल से 2500 फीट नीची है।
  • लोपनोर झील:- चीन में स्थित जहाॅ चीन का परमाणु परीक्षण केन्द्र है।
  •  बालखश झील:- कजाकिस्तान में स्थित मीठे पानी की झील।
  • किंघाई झील:– चीन में मीठे पानी की सबसे बड़ी झील।
  • आयर झील:- आॅस्टेªलिया की सबसे बड़ी झील, अंतःप्रवाही झील, डाउन्स घास भूमियों का क्षेत्र।
  •  टोनले सैप झील:– कंबोडिया में स्थित मीठे पानी की बड़ी झील।
  • वुलर झील:- जम्मू काश्मीर में झेलम नदी पर स्थित गोखुर झील।
  •  लोकटक झील:– मणिपुर में पूर्वेत्तर भारत की ताजे पानी की सबसे बड़ी झील।
  • राकंस ताल व मानसरोवर झील:- तिब्बत क्षेत्र में स्थित हिमानीकृत झील।
  • टिसी सिकरू झील:- तिब्बत क्षेत्र में स्थित विश्व की सबसे ऊॅची हिमानी प्रभाव से निर्मित मीठी झील।
  •   देव ताल:- कुमाॅयु हिमालय स्थित विश्व की दूसरी एवं भारत की सबसे ऊॅची झील।